दो कंप्यूटर के बीच फ़ाइल और फ़ोल्डर्स को कैसे शेयर करते है ?

दो कंप्यूटर के बीच फ़ाइल और फ़ोल्डर्स को कैसे शेयर करते है ?

Data Sharing between PC

ज्यादातर आज के समय में लोगों के पास कंप्यूटर तो होता ही होगा और उसमे अपने ऑफिस या फिर पढाई लिखाई का काम करते ही होंगे।

चाहे आप कहीं के कर्मचारी हो , बिद्यार्थी हो , या फिर कंप्यूटर से सम्बंधित और भी कुछ काम करते हो। आज के दौर में एक से अधिक पर्सनल कंप्यूटर का होना बड़ी बात नहीं है क्युकी काम तो करना ही होगा और काम को सबमिट भी करना होता है।

एक महिला कम्प्युटर पर काम करते हुये

आज बहुत सारे लोग फ्री लैंसर्स (ऑनलाइन जॉब देने वाला पोर्टल ) पर अपना जॉब कर रहे है और कुछ पैसे भी कमा रहे है। इसलिए  हर घर पर एक या एक से अधिक कंप्यूटर या लैपटॉप का होना स्वाभाविक है।

ऐसे में अगर आप के पास एक से ज्यादा कंप्यूटर है तो ये ज़रूरी नहीं की आप का सारा डाटा (फाइल्स , फ़ोल्डर्स , कोई खास दस्तावेज , इमेज , वीडियो ) एक ही कंप्यूटर में हो जिसपर काम कर रहे हो।

दोनों कंप्यूटर में अगल अगल डाटा हो ही सकता है और एक कंप्यूटर को दूसरे कंप्यूटर की डाटा की ज़रूरत हो ही सकता है। साधारण तौर पर हमलोग usb device या pen drive/फ़्लैश drive या आप कह सकते है डाटा ट्रेवल डिवाइस इस्तेमाल किया जाता है , एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डाटा को ले जाने के लिए।

यहाँ आप सिखने वाले है की आप दो कंप्यूटर के बिच कैसे कम्युनिकेशन को बना सकते है जिससे आप बिना किसी एक्टर्नल डिवाइस का इस्तेमाल किये हुए आसानी से कोई भी डाटा एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में ले या दे सकते है।

यहाँ निचे दिए गए वीडियो में आप को पूरी जानकारी मिल जाएगी। जिसको देखकर आप बहुत आसानी से अपने दोनों कंप्यूटर को configure कर सकते है और डाटा का आदान प्रदान कर सकते है।

इसके लिए क्या क्या ज़रूरी बाते या रिसोर्सेज की ज़रूरत आप को पड़  सकती है।

१. सबसे पहले आप के पास दो कंप्यूटर या उससे अधिक कंप्यूटर का होना ज़रूरी है।

२. आपका दोनों डिवाइस या सारे डिवाइस एक दूसरे के साथ Wi-Fi या वायर के ज़रिये जुड़े होने चाहिए।

३. उन सभी डिवाइस का wired या Wi-Fi कम्युनिकेशन एक ही नेटवर्क से कनेक्ट होना चाहिए।

४. सारे कंप्यूटर के बीच सही कनेक्शन है या नहीं इसको जांचने के लिए एक कमांड को डाल कर चेक करना  होता है , इससे ता चल जाता है की आप के कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े होने के वाबजूद काम भी कर रहे है या नहीं।

५. जिस कंप्यूटर को शेयर करना है उसपर कुछ ज़रूरी सेटिंग करनी होती है ,जिससे आप दूसरे कंप्यूटर में शेयर किया हुआ फोल्डर या drive को एक्सेस कर पाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *